छत्तीसगढ़: MLA का बड़बोलापन, कहा- अफसरों को जूता मारना पड़े तो मारो

  • MLA का बड़बोलापन, अफसरों को जूता मारना पड़े तो मारो
  • किसानों के साथ धोखाधड़ी बर्दाश्त नहीं- विधायक
  • बैंकों पर गलत तरीके से कर्ज वसूली का आरोप

छत्तीसगढ़ के कांग्रेस विधायक बृहस्पति सिंह किसानों के हक में बोलते-बोलते मर्यादा तोड़ बैठे. विधायक बृहस्पति सिंह ने कहा कि अगर बैंक का कोई भी अफसर किसानों को झूठे लोन के वसूली के नाम पर तंग करता है तो उसे जूता मारना पड़े तो मारिए.

कांग्रेस एमएलए बृहस्पति सिंह छत्तीसगढ़ के बलरामपुर में एक कार्यक्रम में लोगों को संबोधित कर रहे थे. बृहस्पति सिंह ने कहा कि हमारे अन्नदाता को कोई परेशान नहीं कर सकता है. विधायक ने कहा है कि कुछ बैंक अधिकारियों ने किसानों गलत तरीके से दस्तखत करा लिया है और उन्हें कर्ज वसूली का नोटिस भेज रहे हैं. उन्होंने कहा कि वे इस मामले की शिकायत मुख्यमंत्री भूपेश बघेल और जिले के कलेक्टर से कर चुके हैं. लेकिन अगर कोई अधिकारी ऐसा करता है तो आप को उन्हें जूते मारने चाहिए.

बृहस्पति सिंह ने कहा, “किसानों ने लोन नहीं लिया है, लेकिन बैंक अधिकारियों ने धोखे से हस्ताक्षर करवा लिया है और अब नोटिस भेज रहे हैं…ये बहुत गंभीर बात है…मैने मुख्यमंत्री साहब से बात की है, कलेक्टर से बात की है…मेरा आपसे आग्रह है कि जो अधिकारी गड़बड़ करता है, किसानों को धोखा देता है…जो अन्नदाता हमारा-आपका पेट भरने का काम करता है…उसके साथ कोई अधिकारी अगर गड़बड़ करेगा तो किसी कीमत पर बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.”

विधायक बृहस्पति सिंह ने कहा कि ऐसे अधिकारियों के खिलाफ जांच होनी चाहिए और उन्हें हर हालत में जेल भेजा जाना चाहिए. विधायक ने आगे कहा, “ऐसे अधिकारियों को जूता मारना पड़े तो मारो, लेकिन किसानों को धोखा देना कदापि बर्दाश्त नहीं किया जाएगा.” विधायक का आरोप है कि बैंक अधिकारी किसानों के पुराने कर्जे को जिसे सरकार ने माफ कर दिया है, नया बता रहे हैं और उसकी वसूली के लिए नोटिस भेज रहे हैं. बता दें कि छत्तीसगढ़ की कांग्रेस सरकार ने अपने चुनावी वादे के तहत किसानों का कर्जा माफ कर दिया है.

छत्तीसगढ़ के नेताओं मंत्रियों का बड़बोलापन कोई नया नहीं है. कुछ ही दिन पहले छत्तीसगढ़ सरकार में आबकारी मंत्री कवासी लखमा ने बच्चों को कहा था कि बड़ा नेता बनना है तो कलेक्टर-एसपी जैसे अधिकारियों का कॉलर पकड़ो.

Source – Aaj Tak