पुणे पुलिस की रिपोर्ट में दावा- गौतम नवलखा का हिज्बुल मुजाहिद्दीन से था संबंध

पुणे पुलिस ने बुधवार को अर्बन नक्सल मामले में अपनी रिपोर्ट दाखिल की है. इस रिपोर्ट में गौतम नवलखा के कश्मीर में हिज्बुल मुजाहिद्दीन से संबंध के संकेत दिए गए हैं. रिपोर्ट में कहा गया है कि आरोपी गौतम नवलखा का आतंकियों से संबंध था.

पुणे पुलिस की रिपोर्ट के मुताबिक, हिज्बुल मुजाहिदीन से जुड़े होने की रिपोर्ट अर्बन नक्सल के आरोपी रोना विल्सन के लैपटॉप से बरामद की गई है. रिपोर्ट में गौतम नवलखा को ‘जीएन’ नाम दिया गया है जो कश्मीर के कई अलगाववादियों और हिज्बुल मुजाहिदीन के कमांडर्स के संपर्क में थे. 

अर्बन नक्सल से जुड़ी यह रिपोर्ट 2013 में लिखी गई है जिसमें कहा गया है कि गौतम नवलखा ने कश्मीर के कई दौरे किए और शकील बख्शी नाम के एक हिज्बुल कमांडर से मुलाकात की. गौतम नवलखा परवेज खान नाम के एक शख्स के संपर्क में थे जो पहले हिज्बुल मुजाहिदीन का कमांडर था और बाद में डबल एजेंट बन गया.

पुणे पुलिस की रिपोर्ट में कहा गया है कि गौतम नवलखा नक्सलियों की ओर से हथियारों की अदला बदली और खुफिया सूचना के लिए हिज्बुल कमांडर से मिले. नवलखा ने परवेज खान को दिल्ली में माओवादी कमांडर से मिलने के लिए भेजा था लेकिन बाद में माओवादी फैक्ट फाइंडिंग टीम को पता चल गया कि खान डबल एजेंट है. हिज्बुल मुजाहिदीन माओवादियों से संपर्क बनाना चाह रहा था ताकि उनकी मदद से म्यांमार बॉर्डर तक पहुंच सके और अपने हथियार सुरक्षित कर सके. 

Source – Aaj Tak