मुर्शिदाबाद मर्डर: मनोज तिवारी बोले- अब क्यों चुप अवॉर्ड वापसी गैंग

  • मनोज तिवारी ने पूछा, मॉब लिंचिंग पर बोलने वाले चुप क्यों हैं
  • आरएसएस और बीजेपी ने ममता सरकार पर सवाल उठाया है

पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में राष्ट्रीय स्वयंसेवक संघ (आरएसएस) के कार्यकर्ता की हत्या पर मचे बवाल पर भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) सांसद मनोज तिवारी ने बयान दिया है. दिल्ली बीजेपी के अध्यक्ष मनोज तिवारी ने कहा कि अवॉर्ड वापसी गैंग वाले इस दृश्य पर चुप क्यों हैं. मॉब लिंचिंग पर बोलने वाले क्यों चुप हैं. बीजेपी सांसद ने ट्वीट किया कि न्याय कैसे होगा. उन्होंने कहा, ममता बनर्जी की सरकार में क्या हो रहा है.

बता दें कि 9 अक्टूबर को मुर्शिदाबाद में बंधु प्रकाश पाल, उनकी 8 महीने की गर्भवती पत्नी खुशबू और 8 साल के बेटे की हत्या हुई कर दी गई थी. तीनों की लाशें खून में सनी पड़ी मिलीं. मुर्शिदाबाद के कनाईगंज में रहने वाले बंधु प्रकाश पाल आरएसएस की शाखाओं में जाते थे. इस मामले में आरएसएस से लेकर बीजेपी तक ममता सरकार पर सवाल उठा रहे हैं.

राज्यपाल ने मांगी रिपोर्ट

पुलिस का कहना है कि इस मामले में कोई राजनीतिक दखल नहीं है. फिलहाल मामले की तफ्तीश जारी है. वहीं, पश्चिम बंगाल के राज्यपाल जगदीप धनखड़ ने कहा कि यह अमानवीय घटना राज्य के कानून व्यवस्था की स्थिति को दर्शाती है. उन्होंने इस मामले की पूरी रिपोर्ट मांगी है.

बीजेपी प्रवक्ता ने भी उठाए सवाल

अपराध स्थल के एक वीडियो को ट्विटर के पेज पर पोस्ट करते हुए बीजेपी के प्रवक्ता संबित पात्रा ने घटना को भयानक बताया. उन्होंने पोस्ट में कहा, चेतावनी : भयानक वीडियो. इसने मेरी अंतरआत्मा को हिलाकर रख दिया. पश्चिम बंगाल के मुर्शिदाबाद में आरएसएस कार्यकर्ता बंधु प्रकाश पाल, उसकी आठ महीने की गर्भवती पत्नी और उसके बच्चे की नृशंस हत्या कर दी गई. उदारवादियों के मुंह से एक शब्द नहीं निकला.. इस घटना पर 59 उदारवादियों द्वारा एक पत्र सामने नहीं आया.

आरएसएस के राज्य सचिव जिष्णु बसु ने कहा कि बंधु पिछले कुछ महीनों से नियमित रूप से संघ के साप्ताहिक कार्यक्रम ‘मिलन’ में भाग ले रहे थे.

Source – Aaj Tak