राजस्थान में कोरोना से पहली मौत, संपर्क में आए दो रिश्तेदार भी पॉजिटिव

  • भीलवाड़ा में संदिग्ध की मौत, टेस्ट में कोरोना पॉजिटिव
  • संपर्क में आए दो रिश्तेदार भी संक्रमित

राजस्थान में कोरोना वायरस से मौत का पहला सामने आया है. दरअसल, भीलवाड़ा के एक अस्पताल में एक बुजुर्ग भर्ती हुआ था. उसमें कोरोना के सिम्टम्स पाए गए थे. इलाज के दौरान ही उसकी मौत हो गई. अब उसकी कोरोना रिपोर्ट आ गई है, जिसमें वह पॉजिटिव निकला है. उसके संपर्क में आए दो और लोग पॉजिटिव पाए गए हैं.

भीलवाड़ा के मेडिकल कॉलेज प्रशासन के मुताबिक, बुधवार को सब्‍जी मण्‍डी में रहने वाले 73 वर्षीय नारायण सिंह को कोरोना संदिग्‍ध के रूप में भर्ती किया गया था. नारायण सिंह ने ब्रजेश बांगड चिकित्‍सालय में किडनी का डाय‍लसिस करवाने गया था। जब इस यहां पर लाया गया तो उसकी हालत ज्‍यादा नाजुक थी. वह कोमा में चला गया और उसकी मौत हो गई.

दो रिश्तेदार संक्रमित

राजस्थान के स्वास्थ्य मंत्री ने कहा कि भीलवाड़ा में जिनकी मौत हुई है, वह 11 तारीख को डायबिटीज, ब्रेन स्ट्रोक और किडनी के मरीज के रूप में भर्ती थे, जिनका हमने सैंपल लिया था, वह पॉजिटिव निकला है. इसके साथ ही उनके दो रिश्तेदारों का टेस्ट भी पॉजिटिव आया है. फिलहाल, दोनों को आइसोलेशन वार्ड में रखा गया है.

एक अस्पताल के 16 डॉक्टर-नर्स संक्रमित

कोरोना से मरा यह बुजुर्ग 11 मार्च को एक प्राइवेट अस्पताल में भर्ती हुआ था. 12 मार्च को इस अस्पताल के 2 डॉक्टर बीमार होकर जयपुर के अस्पताल में पहुंचे थे. दोनों संक्रमित मिले थे. इसके बाद डॉक्टरों की जांच शुरू की गई तो अब तक 16 डॉक्टर और नर्स कोरोना पॉजिटिव हो चुके हैं. हालांकि, साफ नहीं है कि बुजुर्ग के संपर्क में आकर सभी संक्रमित हुए है या नहीं.

पूरे भीलवाड़ा की हो रही है स्क्रीनिंग

सरकार ने देश में सबसे पहले भीलवाड़ा में कर्फ्यू लगाया था. पूरे भीलवाड़ा में 13.30 लाख आबादी की स्क्रीनिंग की जा रही है, जिसमें से 6 लाख से ज्यादा लोगों की स्क्रीनिंग अब तक हो चुकी है. सरकार का कहना है कि भीलवाड़ा आने और जाने वाले सभी रास्ते सील कर दिए गए हैं.

Source – Aaj Tak